Thu. May 30th, 2024
10 जनवरी  को विश्व हिंदी दिवस मनाया जाता है । हिंदी दिवस मानाने का उदेश्य पुरे विश्व में हिंदी भाषा के प्रचार – प्रसार के लिए जागरूकता पैदा करना तथा हिंदी भाषा को ाणराष्टीय भाष के रूप मर पेश करना हैं । भारत के दूतावास  विदेशो में इस दिन को विशेष रूप से मानते है । भारत में सभी कार्यालयों में बिभिन विषयो पर हिंदी में व्याख्यान आयोजित किये जाते है । हिंदी भाषा का विकाश करने के उद्देश्य से 10 जनवरी को विश्व हिंदी सम्मलेन की शुरुआत की गयी  और 10 जनवरी 1974 को प्रथम विश्व हिंदी दिवस नागपुर में आयोजित किया गया तब से ही 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस के रूप में मानते  आते है । विश्व हिंदी सचिवालय मारीशस में स्थित है ।

विश्व हिंदी दिवस का उद्देश्य  : 

इसका उद्देश्य पुरे विश्व में हिंदी का प्रचार – प्रसार के लिए जागरूकता पैदा करना , हिंदी के प्रति जागरूक करना और हिंदी को विश्व भाषा के रूप में प्रस्तुत करना ।

इतिहास क्या है ? 

वर्ष 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्रीं इंदिरा गाँधी ने प्रथम  10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस सम्मलेन का उद्घाटन किया था  । भारत  , मारीशस , यूनाटेड किंगडम  और टोबैगो , सयुक्त राज्य अमेरिका जैसे बिभिन्न देशो में विश्व हिंदी दिवस के रूप में 10 जनवरी को मनाया जाता है । 10 जनवरी 2006 को पहली बार विश्व हिंदी  हिंदी दिवस मनाया गया था भारत के पूर्व   प्रधानमंत्री  मनमोहन सिंह ने 10 जनवरी 2006 को प्रति वर्ष विश्व हिंदी दिवस के रूप में मनाये जाने की घोषणा की थी । 10 जनवरी  2006 को पहल बार भारतीय विदेश मंत्रालय ने विदेश में विश्व हिंदी दिवस के रूप में मनाया था

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *