Thu. Jul 25th, 2024

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ” ऑर्डर ऑफ़ सेंट एंड्रयू द फर्स्ट – कॉल ” से सम्मानित किया गया

नरेंद्र मोदी को रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्माननरेंद्र मोदी को रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ” ऑर्डर ऑफ़ सेंट एंड्रयू द फर्स्ट – कॉल ” से सम्मानित किया गया

 रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान " ऑर्डर ऑफ़ सेंट एंड्रयू द फर्स्ट - कॉल "
रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ” ऑर्डर ऑफ़ सेंट एंड्रयू द फर्स्ट – कॉल “

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 9 जुलाई 2024 को रूस के मॉस्को क्रेमलिन के सेंट कैथरीन हॉल में वर्ष 2019 में घोषित ” ऑर्डर ऑफ़ सेंट एंड्रयू द एपोस्टल द फर्स्ट – कॉल ” से सम्मानित किया गया है |

रूस और भारत के बिच एक विशेषाधिकार प्राप्त रणनीतिक साझेदारी और दोनों देशों के बिच मैत्रीपूर्ण संबंधों के बिकाश में उनके विशिष्ट योगदान के लिए भारत के प्रधानमंत्री को यह आदेश प्रदान किया गया |

इस पुरस्कार की स्थापना वर्ष 1698 में जोर पीटर द ग्रेट ने यीशु के पहले प्रेषित और रूस के संरक्षण संत सेंट एंड्रयू के सम्मान में की थी | यह केवल सबसे उत्कृष्ट नागरिक या सैन्य सेवा के लिए दिया जाता है |

इस ऑर्डर का नाम सेंट एंड्रयू के नाम पर रखा गया है , जिन्हे जीसस के पहले प्रेषित के रूप में सम्मानित किया जाता है और उन्हें रूस का संरक्षण संत माना जाता है | नरेंद्र मोदी ने आखिरी बार 2019 में रूस की यात्रा की थी , जब उन्होंने सुदूर पूर्वी बंदरगाह व्लादिवोस्टोक में एक मंच में भाग लिया था और पुतिन मुलाकात की थी |

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22वे भारत – रूस वार्षिक शिखर सम्मलेन के लिए रूस की अपनी दो दिवसीय यात्रा के दौरान अज्ञात सैनिक की समाधी पर पुष्पांजलि अर्पित की |

नरेंद्र मोदी और पुतिन की पिछली मुलाकात सितम्बर 2022 में उज्बेकिस्तान में शंघाई सहयोग संगठन शिखर सम्मलेन में हुई थी |

एचसीएल टेक की अध्यक्ष रौशनी नादर मल्होत्रा  को फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ” शेवेलियर डी ला लीजन डी ‘ होनूर’ ( नैट ऑफ़ द लीजन ऑफ़ ऑनर ) से सम्मानित किया गया है |

भारत के 250 बिलियन डॉलर के आईटी निर्यात उद्योग में चौथी सबसे बड़ी कंपनी , HCLTech ऐरोस्पेस , विनिर्माण , वित्तीय सेवाओं और फार्मास्युटिकल्स जैसे उद्योगों में फ़्रांसिसी कंपनियों को सेवाएं देती | यह फ्रांस के स्थानीय प्रौद्योगिकी पारिस्थितिकी तंत्र को बढ़ावा देने के लिए मिडिल स्कूलों में सॉफ्टवेयर कोडिंग कौशल प्रदान करने में भी शामिल है |

नेपोलियन बोनापार्ट की और से साल 1802 में शुरू किया गया शेवेलियर दे ला लीजन डी ‘ होनूर ‘ फ्रांस के लिए उत्कृष्ट सेवा करने के लिए फ़्रांसिसी गणराज्य की ओर से दिया जाने वाला सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार है | फ़्रांसिसी गणराज्य के राष्ट्रपति ग्रैंड मास्टर ऑफ़ द ऑर्डर द लीजन ऑफ़ ऑनर होते है |

तमिल लेखक शिवशंकरी को डॉ सी नारायण रेड्डी राष्ट्रिय साहित्य पुरस्कार के लिए चुना गया है | यह प्रतिष्ठित सम्मान तमिल साहित्यिक संस्कृति के समृद्ध तने – बने में उनके अपर योगदान का जश्न मनाता है |

सुशीला नारायण रेड्डी ट्रस्ट द्वारा प्रस्तुत डॉ सी नारायण रेड्डी राष्ट्रिय साहित्य पुरस्कार , भारतीय साहित्यिक समुदाय में सबसे सम्मानित सम्मानों में से एक है |

शिवशंकरी को इसके तहत 5 लाख रूपये का नकद पुरस्कार , एक स्मारक स्मृति चिन्ह और एक पारम्परिक शॉल 29 जुलाई 2024 को हैदराबाद के प्रतिष्ठित रविंद्र भारती में आयोजित किया जाएगा | 

यह तिथि विशेष महत्त्व रखती है क्योकि यह प्रसिद्द तेलुगु कवी और शिक्षाविद डॉ सी नारायण रेड्डी की 93 वीं जयंती समारोह के साथ मेल खाती है , जिनके नाम पर यह पुरस्कार रखा गया है |

चेन्नई स्थित लेखिका ने तमिल में 36 उपन्यास , 48 लघु उपन्यास ( नवालिका ) , 150 कहानियां , 15 यात्रा वृतांत  , निबंधों के साथ खंड , चार शोध पत्र और दो आत्मकथाएं लिखी है |

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2 दिवशीय रूस गए हुए है और वो वह विभिन्न मुद्दों पर रूस के राष्ट्रपति पुतिन के साथ बात चित करेंगे और बहोत से पैक्ट पर उनकी सहमति हो पायेगी जिससे भारत और रूस दोनों को ही फ़ायदा हो पायेगा | नरेंद्र मोदी के रूस के दौरे में भारत के जितने भी वह सेना में गए हुए है उनकी वापसी करने में भी सफलता मिल सकती है जिससे वह फसे सैनिक भारत लौट के आ सकते है | जो वहाँ जबरदस्ती फसे हुए है , उनका घर वापसी हो सकती है |

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *